768 512 15266104 thumbnail 3x2 korea

 उत्तर कोरिया ने समुद्र की तरफ तीन अज्ञात संदिग्ध बैलिस्टिक मिसाइलों का प्रक्षेपण किया. दक्षिण कोरिया और जापान ने यह बात कही. यह इस साल उत्तर कोरिया द्वारा हथियारों के प्रदर्शन की कड़ी में नवीनतम परीक्षण हैं. यह प्रक्षेपण ऐसे समय हुआ है जब महामारी की शुरुआत के बाद से देश में कोरोना वायरस संक्रमण के पहले मामले की पुष्टि की गई है.

जापान के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि उत्तर कोरिया द्वारा दागी गई मिसाइल एक संभावित बैलिस्टिक प्रक्षेपास्त्र हो सकता है. उसकी तरफ से और कोई विवरण नहीं दिया गया. दक्षिण कोरिया के ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ ने एक बयान में कहा कि उत्तर कोरिया की मिसाइल बृहस्पतिवार को देश (उत्तर कोरिया) के पूर्वी समुद्र की तरफ प्रक्षेपित की गई। बयान में और कोई जानकारी नहीं दी गई.

इस बीच उत्तर कोरिया में संक्रमण के पहले मामले की पुष्टि करने के बाद देश के नेता किम जोंग-उन ने शहरों और काउंटी में पूर्ण लॉकडाउन लगाने का आदेश दिया है. कोविड-19 वैश्विक महामारी फैलने के दो साल से अधिक समय बाद उत्तर कोरिया में संक्रमण के पहले मामले की पुष्टि की गई है. उत्तर कोरिया ने अटकी हुई परमाणु कूटनीति के बीच अपने प्रतिद्वंद्वियों पर दबाव बनाने के स्पष्ट प्रयास में इस साल मिसाइलों के कई परीक्षण किए हैं. कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि बढ़ते वायरस रोधी कदमों के बावजूद, उत्तर कोरिया राष्ट्रीय एकता को मजबूत करने की कोशिश के तहत अपने हथियारों के परीक्षण जारी रखेगा.

बृहस्पतिवार को किया गया प्रक्षेपण इस साल उत्तर कोरिया द्वारा किया गया 16वां परीक्षण था. इनमें 2017 के बाद से उत्तर कोरिया के एक अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल का किया गया पहला परीक्षण भी शामिल है. ऐसे संकेत भी हैं कि उत्तर कोरिया देश के पूर्वोत्तर में एक दूरस्थ परीक्षण मैदान में पांच वर्षों में अपना पहला परमाणु परीक्षण करने की तैयारी कर रहा है.

Leave a Reply