1 86

राजधानी नई दिल्ली के ‘श्रद्धा वॉल्कर हत्याकांड’ को लोग अब तक भूले नहीं कि अब झारखंड के साहिबगंज से इसी तरह का दिल दहला देने वाला मामला सामने आ गया है, जिले के बोरियो में 22 साल की आदिवासी लड़की को कटर से 12 टुकड़ों में काट फेंक दिया गया। आरोपी कोई और नहीं, बल्कि उसका पति दिलदार अंसारी ही है। कहा जा रहा है कि करीब दो साल से दोनों एक साथ रह रहे थे।

rubika murder

जानें क्या है मामला?

साहिबगंज में एक शख्स पर आरोप है कि उसने अपनी  22 वर्षीय पत्नी रबिका पहाड़िन (Rubika Pahadin) को कटर से बारह टुकड़ों में काट दिया गया है। मृतका गोंडा पहाड़ की रहनेवाली थी। वह प्रेम विवाह के बाद पति दिलदार अंसारी के साथ बेलटोला स्थित घर पर रहती थी। दिलदार पर आरोप है कि शादी के कुछ दिन बाद ही वह अपनी पत्नी से झगड़ने लगा था। आखिरकार झगड़े से तंग आकर उसने खतरनाक प्लान बनाया और फिर पत्नी की हत्या कर इलेक्ट्रिक कटर से शव के 12 टुकड़े कर दिए। फिर उसे आंगनबाड़ी केंद्र के पीछे फेंक दिया।  यह भी पता चला है कि रबिका दिलदार की दूसरी पत्नी थी।

dead 2

दिलदार की दूसरी पत्नी थी रुबिका
एसपी ने आगे बताया कि रुबिका पहाड़िया, दिलदार अंसारी की दूसरी पत्नी थी। वे एक-दूसरे को पिछले 2 साल से भी ज्यादा समय सेजानते थे। रुबिका पिछले कुछ दिनों से लापता थी। उसके परिवार ने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए स्थानीय पुलिस स्टेशन से संपर्क किया था।

WhatsApp Image 2022 12 18 at 11.56.42 780x470 1N

कुत्ते नोच रहे थे पैर, तब पड़ी नजर 

दरअसल, शनिवार शाम को मोमिन टोला के लोगों को आंगनवाड़ी भवन के पीछे कुछ कुत्तों का झुंड दिखाई दिया, जो मांस के के टुकड़े किसी मानव शरीर के हैं । ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी ।मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मी छानबीन करते हुए एक बंद पड़े घर में जा पहुंचे, जहां एक महिला का क्षत-विक्षत शव पड़ा मिला।

murder sahibganj sixteen nine

कटर से काटा गया था शव ।  

महिला के शव के 12 से ज्यादा टुकड़े मिलने पुलिस का अंदेशा है कि हत्या के बाद डेड बॉडी को इलेक्ट्रिक कटर जैसे किसी धारदार औजार से काटा गया है। फिलहाल पुलिस ने मृतका की शिनाख्त कर देर रात ही उसके पति को गिरफ्तार कर लिया। अब उससे पूरे मामले को लेकर पूछताछ की जा रही है।

BJP हेमंत सोरेन सरकार पर हुई हमलावर-

0521 pratul
जनजाति महिला की हत्या से झारखंड की राजनीति सुलग उठी है. बीजेपी ने हेमंत सोरेन सरकार को जिम्मेदार ठहराया है. पार्टी के प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा है कि दिलदार अंसारी ने हाल ही में इस भोली भाली आदिवासी युवती को फंसा कर उसे दूसरी शादी की थी. हेमंत सरकार के कार्यकाल में बेटियों के खिलाफ अत्याचार लगातार बढ़े हैं. अल्पसंख्यक समाज के कुछ कुंठित मानसिकता वाले लोग बेटियों के खिलाफ अत्याचार लगातार बढ़े हैं. अल्पसंख्यक समाज के कुछ कुंठित मानसिकता वाले लोग बेटियों को लगातार टारगेट कर रहे हैं लेकिन सरकार कोई कदम नहीं उठा रही. अगर सरकार ने ठोस कदम नहीं उठाया तो हम सड़कों पर उतरकर सरकार को मुंहतोड़ जवाब देंगे।।

Leave a Reply